Latest News

INDIAN RAILWAY APL 2018 In Hindi

Summary

INDIAN RAILWAY APL 2018 के कैंडिडेट को जॉइनिंग नहीं देने के कारण और आर आर बी गोरखपुर का जवाब| 5 फरवरी 2018 को भारतीय रेलवे ने CEN- (सी ई एन)-01/ 2018 बहाली निकाली थी| कूल पद -26502 असिस्टेंट लोको पायलट-17673 […]

INDIAN RAILWAY APL 2018 के कैंडिडेट को जॉइनिंग नहीं देने के कारण और आर आर बी गोरखपुर का जवाब|

5 फरवरी 2018 को भारतीय रेलवे ने CEN- (सी ई एन)-01/ 2018 बहाली निकाली थी|

कूल पद -26502
असिस्टेंट लोको पायलट-17673
टेक्नीशियन-8829

सितंबर 2018 में पदों की संख्या बढ़ाकर 64371 हो गई|

असिस्टेंट लोको पायलट 27795
टेक्नीशियन 36576

भारतीय रेलवे में कुल 17 जोन और 73 डिवीजन तथा 21 आर.आर.बी है|

गौरतलब है कि आर.आर.बी गोरखपुर ने 1681 पदों के लिए बहाली निकाली थी उत्तर पूर्वी रेलवे के लिए ए.एल.पी की पोस्ट के लिए|

3 स्टेज के परीक्षा भी हुई कागजात प्रमाणित होने के बाद अंततः चयनित छात्रों की सूची भी जारी की गई|

30 अगस्त 2019 को 1377 सफल परीक्षार्थियों की पहली सूची जारी की गई|

16 सितंबर 2019 को इनमें से 1099 अभ्यार्थियों को डिवीजनआवंटित हुआ बाकी बचे 278 अभ्यार्थियों विरोध करना शुरू कर दिया तथा धर्म प्रदर्शन करते हुए यह आरोप लगाया कि जिन 1099 अभ्यार्थियों को डिवीजन दिया गया है उसमें से लगभग 300 अभ्यार्थी ऐसे हैं जिनका नंबर काफी कम है जबकि ज्यादा अंक पाने वाले अभ्यार्थी का नाम सूची में नहीं है | विरोध कर रहे अभ्यर्थियों ने खाली पदों के आधार पर सूची बनाने को कहा|
30 सितंबर 2019 को 278 अभ्यर्थियों को भी डिवीजन आवंटित कर दिया गया मगर जॉइन नहीं हुआ अंततः छात्रों ने फिर धरना प्रदर्शन करना शुरू कर दिया|

जवाब में गोरखपुर रेलवे ने एक नोटिस जारी किया और कहा कि पूर्वोत्तर रेलवे के पास मात्र 865 बहाली है केमिक विभाग और उस विभाग से संबंधित विभाग के लापरवाही के कारण 2018 में निकाली गई सहायक लोको पायलट रिक्तियों को 865 की जगह 1681 रिक्ति निकाली गई|

रेलवे के परिष्ठ अधिकारियों का अब इस संबंध में कहना है कि हमने दूसरे जोन को अधिकारियों को पत्र लिखा है जिससे अभ्यार्थियों को दूसरे जोन में ट्रांसफर कर दिया जाएगा|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *